एनीमिया : छोटे बच्चो में खून की कमी को कैसे दूर करे

दोस्तों आज का आर्टिकल है कि, “छोटे बच्चो या शिशु में खून की कमी को कैसे दूर करे” खून हमारे शरीर के हर हिस्सों में होता है. अगर doctors की माने तो खून का काम शरीर के हर हिस्से में खाना और ऑक्सीजन पहुचना होता है. इसी तरह से हमारा शरीर का हर अंग सही से काम करता है. अगर खून से related कोई भी problem हो जाये तो हमारे शरीर पर इसका बहुत गहरा असर पड़ता है.

दोस्तों हमारे शरीर में 2 तरह की रक्त कोशिकाये होती है सफ़ेद और लाल. अगर लाल कोशिकाये शरीर में कम होती है तो ऐसे में शरीर में खून की कमी हो जाती है.

खून की कमी अगर बड़ो में हो तो उतना चक्कर नहीं पड़ता पर अगर खून की कमी छोटे बच्चो या शिशु में हो जाये तो ऐसे में बच्चो का मानसिक और शाररिक विकास अच्छे से नहीं हो पाता. तो अगर आपका बच्चा खून की कमी से झुझ रहा है तो आपको तुरंत doctors की मदद ले लेनी चाहिये.

शिशु में खून कि कमी छोटे बच्चो में खून की कमी को कैसे दूर करे

पहले जान ले कि, बच्चो में खून की कमी क्यों होती है

आपके लिये सबसे पहले ये जान लेना बहुत जरुरी है की बच्चो में खून कि कमी क्यों होती है. तभी आप आगे जाकर baby को इस बीमारी से दूर रख सकते हो. निचे हमने कुछ common कारण बताये है जो आम पाये जाते है.

1. Infection के कारण

छोटे बच्चे या शिशु का शरीर बहुत नाजुक होता है उनकी बाहरी skin और अंदरूनी body parts इतने लायक नहीं होते है की बाहरी bacteria या अंदरूनी bacteria से लड़ सके, ऐसे में बच्चो में इन्फेक्शन होना आम बात है. तो आप इसको एक solid reason मान सकते है बच्चो में खूम की कमी होने के पीछे.

2. खाने में कमी के कारण

अगर आपका बच्चा नवजात शिशु है तो ऐसे में बच्चे को माँ का दूध पिलाना ही सबसे अच्छा रहता है. माँ के दूध में बहुत मात्रा में protein होता है जो बच्चे को स्वस्थ रखने के लिये बहुत है. अगर आप अपने बच्चे को बाहरी दूध पिलाती है तो ये एक कारण हो सकता है. बाहरी दूध में protein की मात्रा बहुत कम के बराबर होती है जो आपके बच्चे की सेहत के लिये काफी नहीं है.

अगर आपका बच्चा थोडा बड़ा है मतलब 2 से 3 साल का और आपका बच्चा बाहरी चीजों को ज्यादा पसंद करता है जेसे कि :- junk food, snacks etc etc तो भी बच्चो में खूम में कमी हो जाती है.

3. Body में खून ना बनना

शरीर में खून का ना बनना, इसके बारे में कुछ कह नहीं सकते क्योंकि किसी एक कारण को ठोस कारण कह देना, ये सही नहीं रखेगा. ऐसे में आपको अपने doctors से बच्चे का complete checkup करवाना चाहिये.

छोटे बच्चो में खून की कमी दूर करने के उपाय

दोस्तों इस भाग में हमने आपको कुछ तरीके बताये है जो आपके काम आसकते है. in तरीको को पढ़े और अपनी समझ के हिसाब से follow करे.

1. Doctors की सलाह ले

अगर आपका बच्चा 1 से 5 साल के बीच का है और उसमे खून की कमी है तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिये. सबसे पहले हम आपको बताते है की, बच्चो में खून की कमी का कैसे पता चलता है? अगर छोटे बच्चे या शिशु को जल्दी थकान लगती है, skin का पिला पड़ना, भूक का कम लगना, शरीर का कोई हिस्सा अलग सा दिखना, नीली और सिकुड़ी हुई आंखें, मल में रक्त, कमजोर नाखून और सांस लेने में दिक्‍कत………….. तो आप मान कर चल सकते हो की आपके बच्चे में खून की कमी है.

आपको घबराने की जरुरत नहीं है आपके बच्चे में आयरन और फोलेट की कमी है. ये कमी दवाई लेने से दूर हो जाती है.

2. पानी, नीबू और शहद

अगर आपका बच्चा आपका दूध पीता है तो ऐसे में उन्हें पानी, निम्बू और शहद ना दे बल्कि डॉक्टर को दिखाये. Doctor अपने तरीके से आपके बच्चे में खून की कमी को दूर करेंगे. पर अगर आपका बच्चा खाना खाता है तो आप पानी निम्बू और शहद दे सकती है. एक गिलास में पानी डाले फिर पानी में निम्बू निचोड़ दे फिर एक चमच शहद मिलाये और अपने बच्चे को पिला दे. हर रोज ऐसा ही करे……… इस उपाय से खून जल्दी बढ़ता है.

3. आप Iron की मात्रा ले

शरीर में खून की कमी का होने का कारण शरीर में आयरन मतलब लोह तत्वों की कमी का होना होता है. शिशु को दवाई की मदद से आयरन कि मात्रा दी जाती है और अगर बच्चा खाना खाता है तो उसे protein वाला खाना खाने की जरुरत होती है.

4. अगर बच्चा 5 साल से ऊपर है तो प्रोटीन वाला खाना दे

बच्चा 5 साल से ऊपर है तो आप आयरन की दवाई दे सकती है नहीं तो अपने बच्चे को protein वाला खाना दे जैसे कि :- हरी सब्जिया, फलो का जूस, फल, ड्राई फ्रूट. अगर आपका बच्चा meat और अंडा खाता है तो उसे रोज खिलाये.

दोस्तों हमने ये आर्टिकल पूरा कर लिया है अगर आपको इस आर्टिकल से related कोई भी सवाल है तो आप हमसे direct comment के through पूछ सकते है. हमारे साथ बने रहे next आर्टिकल के लिये.

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *