अच्छी आदते : बच्चो को जल्दी कैसे सुलाये और उठाये

आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है हमारे blog पर और आज का आर्टिकल है कि, “बच्चो को जल्दी कैसे उठाये और जल्दी कैसे सुलाये”. सभी माँ बाप के लिये बच्चो को सुलाना और उठाना बहुत मुस्किल काम होता है और ऐसे में अगर हम आपको कह दे कि, अपने बच्चो को जल्दी सुलाये और जल्दी उठाये तो ये काम आप लोगो के लिये मुमकिन सा लगेगा. पर अगर आप एक बारी ये आदत अपने बच्चो को लगा दे तो ये आदत बच्चो कि जिंदगीभर तक रहेगी. तो इस आर्टिकल में हम आपको बतायेंगे कि, बच्चो को जल्दी कैसे सुलाया जाता है? और बच्चो को जल्दी कैसे उठाया जाता है?

अच्छी आदते बच्चो को जल्दी कैसे सुलाये और उठाये

बच्चो को जल्दी सुलाये

इस भाग में हम आपको बच्चो को जल्दी सुलाने के बारे में बतायेंगे. निचे हमने कुछ बेहतरीन tips बताये है. आप इन्हें फॉलो और आजमाये’.

1. Planning करे

अगर बच्चो की आदत लेट सोने की है और आप अब बच्चो को जल्दी सुलाने की सोच रही है तो ऐसे में आपके लिये ये काम थोडा बहुत मुस्किल है पर नामुमकिन नहीं है. बड़ो के मुकाबले बच्चो को किसी चीज़ की आदत डालना थोडा बहुत मुस्किल होता है क्योंकि बच्चे किसी भी बदलाव को जल्दी पसंद नहीं करते. ऐसे में आपको प्लानिंग के साथ काम करना होगा. आपको एक list बनानी होगी जिसमे आप अपने बच्चे के पुरे दिन भर की activity को नोट करेंगे. ऐसे में आपको पता लग जायेगा कि, आपका बच्चा किस time पर क्या क्या करता है जैसे कि :- स्कूल का काम, खेल कूद, खाना खाना, थोडा बहुत सोना, रात को कितने घंटे सोता है etc etc time.

2. Diet पर ध्यान दे

बहुत सारे माँ बाप को इस बारे में नहीं पता होगा कि, रात का खाना अपने बच्चो को किस हिसाब से देना चाहिये. हमारे हिसाब से सभी माँ बाप अपने बच्चो को भर पेट खाना खिलाना पसंद करते है. पर आपकी knowledge के लिये बता दे कि, अगर आप अपने बच्चे को अच्छी नींद देना चाहते है और अगर आप अपने बच्चे को सुबह जल्दी उठाना चाहते है तो आपको अपने बच्चे को रात को light खाना देना चाहिये.

हल्का फुल्का खाना खाने से आपका बच्चा सुबह जल्दी उठ जाता है और सुबह का नाश्ता कभी भी मिस नहीं करेगा. अपने बच्चे को सुबह heavy खाना दे, दिन में भी heavy दे पर रात को light खाना दे.

3. Evening Activities

बच्चो को रात को जल्दी सुलाने के लिये आपको दिन के activity पर भी ध्यान देना होगा. बच्चो के स्कूल से आने के बार उन्हें खाना खिलाये. उसके बाद बच्चो को 1 से 2 घंटे तक सुलाये ताकि बच्चे सुबह की थकान को खत्म कर सके. बच्चो के उठने के बाद बच्चो का स्कूल का होमवर्क करवाये. जब स्कूल का काम खत्म हो जाये फिर बच्चो को बाहर ग्राउंड ले जाये. बाहर बच्चो को दुसरे बच्चो के साथ खेलने को कहे या बच्चो से एक्सरसाइज करवाये. खेल कूद या एक्सरसाइज करने से बच्चो को रात में नींद जल्दी और अच्छी आती है.

4. सुलाये

रात को हल्का फुल्का खाना खिलने के बाद अब बारी आती है बच्चो को सुलाने की. इस बात का ख्याल रखे की, आपको पता होना चाहिये कि, बच्चो को कम से कम 10 घंटे की नींद चाहिये ही चाहिये होती है. उसकी के हिसाब से बच्चो को सुलाये ताकि सुबह बच्चे आप के हिसाब से उठ सके.

हो सकता है कि, आपके बच्चो को नींद आने में problem आये तो ऐसे time पर उन्हें डाटे नहीं बल्कि उन्हें गाने सुलाये या लोरी सुनाये. ऐसे में बच्चो को जल्दी नींद आजाती है. कुछ दिन तक आपको ऐसा ही करना पड़ेगा पर बाद में बच्चो को time से सोने की आदत पड़ जायेगी.

बच्चो को जल्दी उठाये

अब यहाँ पर हम आपको बच्चो को सुबह जल्दी उठाने के बारे में बतायेंगे. निचे हमने कुछ tips बात रखे है इन्हें पढ़े और आजमाये.

1. Sound के Through बच्चे को उठाये

आपके बच्चे अभी छोटे है तो ऐसे में वो जल्दी डर जाते है. अगर आप उन्हें उठाने के लिये उन्हें हिलाओगे तो ऐसे में बच्चे सहम जाते है. तो इन सब चकरो को छोड़े और साउंड के through उठाये जैसे कि :- मान लो कि, आपने अपने बच्चो को मोर्निंग में 5 बजे उठाना है तो आप घडी अलारम लगा सकते है और वो अलारम अपने बच्चे के bed के 10 कदम दूर कही पर रख दे. ताकि जब अलारम बजे तो आपका बच्चा उसे बंद करने के लिये 10 कदम चले. जब एक बार आपका बच्चा उठा गया तो फिर उसे दूसरी activity में लगाये.

2. जल्दी उठने के फायदे

हो सकता है कि, आपके बच्चे को सुबह उठना पसंद ना हो तो ऐसे में उसे सुबह उठने के फायदों के बारे में बताये. उन्हें बताये की सुबह उठने के बहुत फायदे है जैसे कि :- सुबह उठने से पूरा दिन बहुत बड़ा लगता है, अधूरे काम पुरे होते है, एक्सरसाइज करने से सेहत अच्छी रहती है, ब्रेकफास्ट करने का पूरा टाइम मिलता है, ताजा हवा मिलती है,

तो दोस्तों हमे उम्मीद है कि, आपको ये आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा. अगर आपके मन को कोई सवाल चल रहा है तो हमे comment के through बताये. दोस्तों हमारे साथ बने रहे next आर्टिकल के लिये.

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *